एयरटेल बना देश का पहला 5G नेटवर्क Jio-Vodafone को छोड़ा पीछे

दोस्तों आप जानते होंगे कि भारत में इस समय मोबाइल नेटवर्क के क्षेत्र में सिर्फ दो ही कंपनियां बढ़ चढ़कर हिस्सा ले रही हैं। पहली कंपनी है जिओ और दूसरी कंपनी है एयरटेल। हालांकि जिओ के पास वर्तमान समय में एयरटेल से अधिक उपभोक्ता हैं परंतु इस समय 5G नेटवर्क के क्षेत्र में एयरटेल जिओ से आगे निकलता हुआ दिखाई दे रहा है। हाल ही में एयरटेल ने हैदराबाद में अपने 5G नेटवर्क का सफल डेमोंसट्रेशन भी किया। जिसमें एयरटेल को 3 जी बी पी एस की स्पीड का अनुभव हुआ। इस तरह से 5G नेटवर्क का परीक्षण करने वाला एयरटेल भारत का पहला ऑपरेटर बन गया है।

Airtel first to test 5G in India! - The Leo News | English News

एयरटेल ने बताया कि उसने ऐसा उसके पास पहले से ही मौजूद 1800 मेगाहर्ट्ज बैंड NSA टेक्नोलॉजी से किया। इस टेस्ट में यह भी पाया गया कि एयरटेल का 5G नेटवर्क सभी प्रकार के डोमैंस जैसे कि रेडियो और ट्रांसपोर्ट के लिए भी तैयार है। एयरटेल कंपनी ने  बताया कि हैदराबाद में लाइव टेस्ट के दौरान कई यूजर्स अपने 5G फोन में पूरी फिल्म को  कुछ सेकंड में ही डाउनलोड कर ले रहे थे। इस टेस्ट से एयरटेल का क्षमता दिखता है।

READ ALSO  paid traffic क्या है? क्या paid traffic adsence के लिए सही है?

परंतु यूजर्स को 5G का फायदा तभी मिलेगा जब सरकार 5G के स्पेक्ट्रम की नीलामी करेगी। 5G के स्पेक्ट्रम को लेने के बाद ही एयरटेल कंपनी अपने ग्राहकों को 5G की सर्विस देगी। एयरटेल के उपभोक्ताओं के लिए अच्छी बात यह है की जब भी 5G की सेवा उपलब्ध होगी उन्हें अपने सिम को स्विच करने की जरूरत नहीं पड़ेगी। एयरटेल के MD सुनील मित्तल ये यह भी खा की उन्हें अपने इंजीनियर्स पर गर्व है। क्युकी उनके मेहनत की वजह से ही टेक सिटी हैदराबाद में 5G की टेस्टिंग हो पाई है। इस प्रकार एक बार फिर से एयरटेल यह साबित करता है की एयरटेल ही भारत के उपभोक्ताओं को नई टेक्नोलॉजी सबसे पहले देता है।

Bharti Airtel and Nokia Collaborate To Test 5G Equipment in India

उन्होंने यह भी बताया की दुनिया में 5G इनोवेशन का केन्द्र बनने की क्षमता भारत में है। ऐसा करने के लिए हमें इको सिस्टम बनाना होगा. जिसमें नेटवर्क, एप्लीकेशन और डिवाइसेस को साथ आना होगा और इसके  लिए Airtel पूरी तरह से तैयार है।

READ ALSO  10 कारण: क्यों Dogecoin खरीदना चाहिए?

जब कंपनी के अधिकारी से Jio और Vi के बारे में पूछा गया तो उन्होंने इस पर कमेंट करने से मना कर दिया। वो बोल्व की वो सिर्फ एयरटेल के बारे में बात करेंगे जो की 5G के लिए तैयार है। स्पेस टेक्नोलॉजी स्टारलिंक के बारे में उन्होंने कहा कि वो वहां फोकस कर रहे जहां कम नेटवर्क है. पिछले साल रिलायंस के सीईओ  मुकेश अंबानी ने 5G नेटवर्क की घोषणा की थी. उन्होंने कहा था कि Jio का 5G नेटवर्क 2021 की दूसरी छमाही में भारत में उपलब्ध होगा ।

 

Leave a Comment